SSLC passing package 2023/very important notes for 50 marks

SSLC Passing package 2023, Very important hindi Notes for 50 marks, Definite pass, दसवीं कक्षा से संबंधित पढ़ाई में पिछड़े या कमजोर छात्रों को Annual exam के लिए तैयार करना अध्यापक एवं उस शैक्षिक संस्थान के लिए बहुत ही चुनौती का काम है।

Students को प्रेरित कर छोटे-छोटे लक्ष्य (Target) को लेकर प्रयास (Effort) करना पड़ता है। इस सफर (journey) में छात्र, अध्यापक, अभिभावकों (Parents) का निरंतर प्रयास बहुत ही अनिवार्य है।

कई बार हम यह कार्य कर भी लेते हैं लेकिन सही मार्गदर्शन या SSLC Passing package notes के अभाव के कारण छात्र उम्मीद (Expectation) के अनुसार उपलब्धी (Success) हासिल नहीं कर पाते।

SSLC passing package 2023/ very important notes for 50 marks

sslc-passing-package
sslc passing package 2023

इस Post के अंतर्गत 10th class hindi subject के अंतर्गत SSLC Passing package notes 2023-24 को लगभग सभी पाठ एवं कविताओं को ध्यान में रखकर साथ ही पिछले कुछ वर्षों से आ रहे वार्षिक Question Papers को ध्यान में रखकर आपके लिए The best तरीके से यह विवरण लिखा गया है।

अध्यापक एवं छात्र मित्रों से अनुरोध है कि इसी माह (Month) से ही आप इसकी तैयारी कर प्रतिदिन एक प्रश्न एवं उससे संबंधित उत्तर का अभ्यास करना प्रारंभ करें।

SSLC passing package notes 2-3 marks answers

1. भारत माँ के प्रकृति-सौंदर्य का वर्णन कीजिए ।

उत्तर : भारत माँ के यहाँ हरे-भरे खेत, फल-फूल से युत वन-उपवन तथा खनिज का व्यापक धन है। इस प्रकार प्राकृतिक सौंदर्य ने सबको मोह लिया है।

2. मातृभूमि का स्वरूप कैसे सुशोभित है ?

उत्तर : मातृभूमि अमरों की जननी है। उसके हृदय में गांधी, बुद्ध और राम समायित हैं। माँ के एक हाथ में न्याय पताका तथा दूसरे हाथ में ज्ञान दीप है। इस प्रकार मातृभूमि का स्वरूप सुशोभित है।

3. आजकल शिक्षित समाज में किसके बारे में विचार किया जाता है ?

उत्तर: आजकल शिक्षित समाज में विटामिन और प्रोटीन के शब्दों के बारे में विचार किया जाता है।

4. दूकानदार ने लेखक से क्या कहा ?

उत्तर : दुकानदार ने लेखक से कहा- बाबूजी, बड़े मजेदार सेब आये हैं, खास कश्मीर के आप ले जाएँ, खाकर तबीयत खुश हो जायेगी।

5. दुकानदार ने अपने नौकर से क्या कहा ?

उत्तर दूकानदार ने अपने नौकर से कहा सुनो, आध सेर कश्मीरी सेब निकाल ला। चुनकर लाना।

6. प्रकृति पर सर्वत्र है विजयी पुरुष आसीन इस पंक्ति का आशयस मझाइए।

उत्तर : इस पंक्ति का आशय है कि आज के मानव ने प्रकृति के हर तत्व पर आकाश, पाताल तथा धरती विजय प्राप्त कर ली है। अर्थात प्रकृति को अपने नियंत्रण में रखा है।

7. दिनकर जी के अनुसार मानव का सही परिचय क्या है?

उत्तर : दिनकर जी के अनुसार जो मानव आपस में आई-चारा बढ़ाये तथा दूसरे मानव से प्रेम का रिश्ता जोड़कर आपस की दूरी को मिटाए वही सच्चा ज्ञानी, विदवान एवं मानव कहलाने का अधिकारी है।

8. अभिनव मनुष्य कविता का दूसरा कौन-सा शीर्षक हो सकता है ? क्यों ?

उत्तर : इस कविता का दूसरा शीर्षक हो सकता है प्रकृति पुरुष’ । क्योंकि मनुष्य ने लगभग प्रकृति के हर तत्व पर अपने प्रयासों से विजय प्राप्त कर ली है।

9. इंटरनेट का मतलब क्या है ?

उत्तर: इंटरनेट अनगिनत कंप्यूटरों के कई अंतर्जालों का, एक दूसरे से संबंध स्थापित करने का जाल है जिसकी वजह से पूरे विश्व का विस्तार एक गाँव का सा छोटा हो गया है।

10. व्यापार और बैंकिंग में इंटरनेट से क्या मदद मिलती है ?

उत्तर: इंटरनेट द्वारा घर बैठे-बैठे खरिदारी कर सकते हैं। कोई भी बिल भर सकते हैं। इससे दुकान जाने और लाइन में घंटों खड़े रहने का समय बच सकता है इंटरनेट बैंकिंग द्वारा दुनिया की किसी भी जगह पर चाहे जितनी भी रकम भेजी जा सकती है।

11. ई-गवर्नेन्स क्या ?

उत्तर : ई-गवर्नेन्स द्वारा सरकार के सभी कामकाज का विवरण, अभिलेख, सरकारी आदेश आदि को यथावत लोगों को सूचित किया जाता है। इससे प्रशासन पारदर्शी बन सकता है।

12. मनुष्य के लिए सुख की प्राप्ती कब संभव है ?

उत्तर : सुसमय पर मन लगाकर जिस कार्य को करना है उस कार्य को पूर्ण करने से मनुष्य के लिए सुख की प्राप्ती संभव है।

13. समय का सदुपयोग कैसे करना चाहिए ?

उत्तर : आलस को छोड़कर, सुसमय पर मन लगाकर जिस कार्य को करना है उस कार्य को पूर्ण करना ही समय का सदुपयोग करना है।

14. कृष्ण बलराम के साथ खेलने क्यों नहीं जाना चाहता ?

उत्तर : बालकृष्ण अपनी माता से शिकायत करता है कि दाऊ भैया मुझे बहुत चिढ़ाता है। वह कहता है कि तुम्हें यशोदा माँ ने जन्म नहीं दिया है बल्कि मोल लिया है। इसी गुस्से के कारण उसके साथ में खेलने नहीं जाना चाहता।

15. बलराम कृष्ण के माता-पिता के बारे में क्या कहता है ?

उत्तर : बलराम कृष्ण से बार-बार पूछता है कि तुम्हारे माता-पिता कौन हैं ? वह कहता है कि नंद और यशोदा तो गोरे हैं, लेकिन तुम क्यों काले हो ? इस प्रकार बलराम कृष्ण से कहता है।

16. कृष्ण अपनी माता यशोदा के प्रति क्यों नाराज़ है ?

उत्तर : कृष्ण अपनी माता यशोदा से इसलिए नाराज़ है कि वह केवल कृष्ण को ही मारती है और बड़े भाई बलराम पर कभी गुस्सा तक नहीं करती।

17. यशोदा कृष्ण के क्रोध को कैसे शांत करती है ?

उत्तर : यशोदा कृष्ण के क्रोध को शांत करने के लिए इस प्रकार कहती है- “हे कृष्ण सुनो। बलराम जन्म से ही चुगलखोर है। मैं गोधन की कसम खाकर कहती हूँ, मैं ही तेरी माता हूँ और तुम मेरे पुत्र हो।”

18. कलेक्टर साहब ने बच्चों की बढ़ाई में क्या कहा ?

उत्तर : कलेक्टर साहब ने बच्चों की बढ़ाई में यह कहा कि “इन बच्चों ने मिलकर गाँव को स्वच्छ वातावरण दिया है। बाल शक्ति के कारण आपका गाँव आदर्श गाँव बन गया है।”

SSLC passing package 2-3 marks video

Source : Rk Karnataka Hindi

SSLC passing package notes 3-4 marks answers

1. गाँव को आदर्श गाँव कैसे बनाया जा सकता है ?

उत्तर : स्कूल के परिसर को स्वच्छ रखना, रोज एक घंटा गाँव की सफाई करना, गाँव के गड्डों को मिट्टी से ढाँपना, कूड़ा डालने के लिए जगह का चयन करके गाँव के लोगों को वहीं पर कूड़ा डालने के लिए कहना, गाँव को हरा-भरा रखना तथा अपने घरों के आस-पास भी फलदार पेड़ लगाना आदि प्रकार के कार्यों से गाँव को आदर्श बनाया जा सकता है।

2. कर्नाटक के प्राकृतिक सौंदर्य का वर्णन कीजिए।

उत्तर : कर्नाटक की प्राकृतिक सौंदर्य नयन मनोहर है। पश्चिम में विशाल अरब्बी समुद्र लहराता है। इसी प्रांत में दक्षिण से उत्तर के छोर तक फैली लंबी पर्वतमालाओं को पश्चिमी घाट कहते हैं। इन्हीं घाटों का कुछ भाग सहयादि कहलाता है। दक्षिण में नीलगिरी की पर्वतावनियों शोभायमान हैं।

3. बसंत ईमानदार लड़का है। कैसे?

उत्तर : बसंत मुफ्त के पैसे को भीख समझता था। इसलिए वह राजकिशोर से मुफ्त में पैसे लेने से इनकार करता है। छलनी खरीदने के बाद राजकिशोर ने एक रुपये का नोट बसंत को दिया। बसंत उस नोट को भुनाने के लिए बाज़ार की ओर गया। लेकिन वापस आते समय मोटर दुर्घटना से उसके दोनो पैर कुचले गये। इस लिए वह राजकिशोर के पास न लौट सका। जब उसे होश आया तो उसने तुरंत अपने भाई प्रताप को पैसे लौटाने के लिए राजकिशोर के यहाँ भेजा। इस घटना से हमे लगता है कि बसंत ईमानदार भी है और स्वाभिमानी भी ।

4. राजकिशोर के मानवीय व्यहार का परिचय दीजिए।

उत्तर : पं. राजकिशोर ने बसंत की याचना सुनकर उसे मुफ्त में दो पैसे देने के लिए तैय्यार होते हैं जब उस बालक के द्वारा मना करने पर उसकी छलनी खरीद लेते हैं मोटर दुर्घटना की खबर सुनते ही डॉक्टर को बुलाकर बसंत के घर जाते हैं और उसका उपचार करवाते हैं। इसतरह गरीब बालक के प्रति हमदर्दी दिखाते हुए आदर के साथ मानवीय व्यवहार दर्शाते हैं।

SSLC passing package 3-4 marks video

Source: Rk Karnataka Hindi

SSLC passing package भावार्थ लेखन

1.मुखिया मुख सों चाहिए,
खान पान को एक।

पालै पोसै सकल अंग,
तुलसी सहित विवेक ॥ 

प्रस्तावना : प्रस्तुत दोहे को गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित ‘तुलसी के दोहे’ नामक कविता भाग से लिया गया है।

संदर्भ : कवि ने मुख अर्थात् मुँह और मुखिया दोनों के स्वभाव की समानता दर्शाते हुए लिखते हैं कि-

भावार्थ : मुखिया को मुँह के समान होना चाहिए। मुँह खाने-पीने का काम अकेला करता है, लेकिन वह जो खाता-पीता है उससे शरीर के सारे अंगों का पालन-पोषण करता है। कवि की राय में मुखिया को भी ऐसे ही विवेकवान होना चाहिए कि वह काम अपनी तरह से करें लेकिन उसका फल सभी में बाँटे।

विशेषता : भाषा, ब्रज भाषा है।

2.तुलसी साथी विपत्ति के,
विद्या विनय विवेक।

साहस सुकृति सुसत्यव्रत,
राम भरोसो एक।।

प्रस्तावना : प्रस्तुत दोहे को गोस्वामी तुलसीदास द्वारा रचित ‘तुलसी के दोहे’ नामक कविता भाग से लिया गया है।

संदर्भ : कवि ने मनुष्य पर जब विपत्ति आती हैं तो हमें किस तरह इस विपत्ति से बच सकते हैं? इसके बारे में बताते हुए लिखते हैं कि-

भावार्थ : मनुष्य पर जब विपत्ति पड़ती है तब विद्या, विनय तथा विवेक ही उसका साथ निभाते हैं। जो राम पर भरोसा करता है, वह साहसी, सत्यव्रती और सुकृतवान बनता है।

विशेषता : भाषा, ब्रज भाषा है।

SSLC passing package कविता कंठस्थ

1. असफलता एक चुनौती है, इसे स्वीकार करो, क्या कमी रह गई, देखो और सुधार करो। जब तक न सफल हो, नींद चैन को त्यागो तुम, संघर्ष का मैदान छोड़कर मत भागो तुम। कुछ किए बिना ही जय-जयकार नहीं होती, कोशिश करनेवालों की कभी हार नहीं होती।

कवि का नाम : सोहनलाल द्विवेदी

कविता का नाम : कोशिश करनेवालों की कभी हार नहीं होती 

SSLC passing package 4 marks video

Source : Rk Karnataka Hindi

SSLC passing package पत्र लेखन

दिनांक : 01-08-2023

प्रेषक,
   गोपाल,
   दसवीं कक्षा,
   सरकारी हाईस्कूल,
सेवा में,
   प्रधानाध्यापक,
   सरकारी हाईस्कूल,

आदरणीय महोदय,

विषय: तीन दिन की छुट्टी की प्रार्थना हेतु।

उपर्युक्त विषय के संबंध में आपसे निवेदन है कि दिः 01-08-2023 से दि 03-08-2023 तक मुझे अपने भाई की शादी में भाग लेने के लिए मुझे बेंगलूरु जाना है, इसलिए मैं विध्यालय नहीं आ सकता। अतः आपसे प्रार्थना करता हूँ कि इन तीन दिनों की छुट्टी देने की कृपा करें।

धन्यवाद सहित,

अभिभावक के हस्ताक्षर             आपका आज्ञाकारी छात्र                                                 (अ.ब.क)

SSLC passing package निबंध लेखन

शीर्षक : इंटरनेट

प्रस्तावना :

इंटरनेट अनगिनत कंप्यूटरों के कई अंतर्जालों का एक दूसरे से संबंध स्थापित करने का जाल है जिसकी वजह से पूरे विश्व का विस्तार एक गाँव का सा छोटा हो गया है।

लाभ :

  • कम समय में विचार, चित्र, वीडियो को भेज सकते हैं।
  • इंटरनेट बैंकिंग द्वारा खरीदारी और बिल भर सकते हैं।
  • वीडियो कान्फरेन्स कर सकते हैं।
  • बेरोज़गारी मिटा सकते हैं।
  • सोशल नेटवर्किंग साइट्स का प्रयोग कर सकते हैं।
  • ई- गवर्नेन्स के माध्यम से पारदर्शी प्रशासन देख सकते हैं।

हानी :

इंटरनेट की वजह से पैरसी, बैंकिंग फ्रॉड, हैकिंग तथा चैटिंग आदि बढ़ रही हैं।

उपसंहार :

हर चीज़ के दो पहलू होते हैं सकारात्मक एवं नकारात्मक उसी प्रकार इंटरनेट भी एक ओर वरदान है तो दूसरी ओर अभिशाप लेकिन सचेत होकर इसका प्रयोग करने से बहुत सारे कार्य आसान हो जाते हैं।

प्रिय छात्रों मुझे उम्मीद है कि यह SSLC passing package 2023 लेख आपको जरूर पसंद आया होगा। आपने ऊपर के सभी उत्तरों को सही तरह से लिखा होगा। तो बिना समय गंवाए अभी से आप इन उत्तरों का अभ्यास प्रारंभ करें।

इस SSLC passing package 2023 Notes से संबंधित आपके कोई Doubts हो तो जरूर Comments box में लिखिएगा। Best of luck for your exam.

10वीं कक्षा से संबंधित पाठ के Notes को अवश्य पढ़ें

1. Mathrubhumi poem notes, amazing notes & summary, 10th class

2. Kashmiri seb notes, amazing summary, 10th, rk karnataka hindi

3. Shani sabse sundar graha, very important notes for 100 marks

Visited 1,384 times, 6 visit(s) today
Share This Post To Your Friends

Leave a comment

error: Content is protected !!