Mahila ki sahas gatha notes/class 10 very important notes

Mahila ki sahas gatha notes class 10 के छात्रों के लिए बहुत ही ज्यादा important है। आनेवाले वार्षिक परीक्षा में इससे संबंधित 3 से 4 अंक जरूर पूछे जा रहे हैं। ऐसे में इस Mahila ki sahas gatha notes की तैयारी करना बहुत जरूरी हो जाता है। 

इस लेख में इस Mahila ki sahas gatha notes को बहुत ही बढ़िया तरीके से लिखा गया है ताकि आपकी मदद हो सके। तो चलिए इसे पढ़कर इसकी तैयारी शुरू करते हैं। 

Mahila ki sahas gatha notes

Mahila ki sahas gatha notes
Mahila ki sahas gatha notes

I. एक वाक्य में उत्तर लिखिए :

1. बछेंद्री पाल को कौन-सा गौरव प्राप्त हुआ है?

उत्तर : बछेंद्री पाल को एवरेस्ट की चोटी पर चढ़नेवाली पहली भारतीय महिला होने का गौरव प्राप्त हुआ है।

2. बछेंद्री के माता-पिता कौन थे?

उत्तर : बछेंद्री के पिता किशनपाल सिंह और माता हंसादेई नेगी थे।

3. बछेंद्री ने क्या निश्चय किया?

उत्तर : बछेंद्री ने पर्वतारोहण करने का निश्चय किया।

4. बछेंद्री ने किस ग्लेशियर पर चढ़ाई की?

उत्तर : बछेंद्री ने ‘गंगोत्री ग्लेशियर’ पर चढ़ाई की।

5. सन् 1983 में दिल्ली में कौन-सा सम्मेलन हुआ था?

उत्तर : सन् 1983 में दिल्ली में हिमालय पर्वतारोहियों का सम्मेलन हुआ था।

6. एवरेस्ट पर भारत का झंडा फहराते समय पाल के साथ कौन थे?

उत्तर : एवरेस्ट पर भारत का झंडा फहराते समय पाल के साथ अंग दोरजी थे।

7. कर्नल का नाम क्या था?

उत्तर : कर्नल का नाम खुल्लर था।

8. ल्हाटू कौन-सी रस्सी लाया था?

उत्तर : ल्हाटू एक नायलॉन की रस्सी लाया था।

9. बछेंद्री ने थैली से कौन-सा चित्र निकाला?

उत्तर : बछेंद्री ने थैली से दुर्गा माँ का चित्र निकाला।

10.कर्नल ने बधाई देते हुए बछेंद्री से क्या कहा?

उत्तर : कर्नल ने बधाई देते हुए बछेंद्री से क्या कहा कि- “देश को तुम पर गर्व है।”

11.मेजर का नाम क्या था?

उत्तर : मेजर का नाम कुमार था।

12.बछेंद्री को भारतीय पर्वतारोहण संघ ने कौन-सा पदक देकर सम्मान किया?

उत्तर : बछेंद्री को भारतीय पर्वतारोहण संघ ने स्वर्ण पदक देकर सम्मान किया।

Mahila ki sahas gatha notes video

Source : Rk Karnataka Hindi

II. दो-तीन वाक्यों में उत्तर लिखिए :

1. बछेंद्री पाल के परिवार का परिचय दीजिए।

उत्तर : बछेंद्री का जन्म एक साधारण भारतीय परिवार में हुआ। पिता किशनपाल सिंह और माता
हंसादेई नेगी की पाँच संतानों में से बछेंद्री तीसरी संतान हैं। इनके बड़े भाई को पहाड़ों पर
जाना अच्छा लगता है।

2. बछेंद्री का बचपन कैसे बिता?

उत्तर : बछेंद्री को बचपन में रोज़ पाँच किलोमिटर पैदल चल कर स्कूल जाना पड़ता था। बाद में
पर्वतारोहण-प्रशिक्षण के दौरान उनका कठोर परिश्रम बहुत काम आया।

3. बछेंद्री ने पर्वतारोहण के लिए किन-किन चीज़ों का उपयोग किया?

उत्तर : बछेंद्री ने पर्वतारोहण के लिए नायलॉन की रस्सी तथा चार लीटर ऑक्सीजन आदि
चीज़ों का उपयोग किया?

4. एवरेस्ट की चोटी पर पहुँचकर बछेंद्री ने क्या किया?

उत्तर : एवरेस्ट की चोटी पर पहुँचकर बछेंद्री ने अपने घुटनों के बल बैठकर थैले से हनुमान
चालीसा और दुर्गा माँ का चित्र निकाला। उन्हें लाल कपड़े में लपेटकर पूजा करने के बाद
बर्फ में दबा दिया। कुछ देर बाद सोनम फुलजर पहुँचने पर कुछ फोटो लिए।

III. चार-पाँच वाक्यों में उत्तर लिखिए :

1. बछेंद्री ने पहाड़ पर चलने की तैयारी किस प्रकार की?

उत्तर : कर्नल खुल्लर ने साउथ कोल तक जाने के लिए तीन शिखर दलों के दो समूह बना दिए।
बछेंद्री सुबह चार बजे उठ गई, बर्फ पिघलाई और चाय बनाई। कुछ बिस्कुट और आधी
चॉकलेट का हल्का नाश्ता करने के पश्चात्‍ वे लगभग साढ़े पाँच बजे अपने तंबू से निकल
पड़ी। इस प्रकार बछेंद्री ने पहाड़ पर चलने की तैयारी की।

2. दक्षिणी शिखर पर चढ़ते समय बछेंद्री के अनुभव के बारे में लिखिए।

उत्तर : दक्षिणी शिखर के ऊपर हवा की गति बढ़ गई थी। इस वजह से बर्फ के कण चारों तरफ उड़
रहे थे जिससे बछेंद्री को कुछ दिखाई नहीं दे रहा था। उन्होंने देखा कि थोड़ी दूर तक कोई
ऊँची चढ़ाई नहीं थी, पर वहाँ की ढलान एकदम सीधी नीची चली गई थी। यह देखकर उनकी
साँसे एकदम रुक गई थी। उन्हें लगा कि सफलता बहुत नज़दीक है। इस प्रकार दक्षिणी शिखर
पर चढ़ते समय बछेंद्री के अनुभव रहे।

3. प्रस्तुत पाठ से क्या संदेश मिलता है?

उत्तर : इस पाठ से यह संदेश मिलता है कि- बच्चे साहस, दृढ़ निश्चय, अथक परिश्रम, मुसीबतों
का सामना आदि गुण सिखते हैं। इसके अलावा ‘मेहनत का फल अच्छा होता है।’ इस ज्ञान
का बोध भी होता है तथा हिमालय की ऊँची चोटियों के बारे में जानकारी भी प्राप्त करते हैं।

IV. जोड़कर लिखिए :

                      अ                     ब
  1. गंगोत्री ग्लेशियर की चढ़ाई        सन् 1982
  2. पर्वतारोहियों का सम्मेलन         सन् 1983
  3. एवरेष्ट की चोटी पर पहुँचना      सन् 1984

V. अनुरूप शब्द लिखिए :

  1. पहाड़ : गिरि :: चोटी : शिखर
  2. कालानाग : पर्वत :: गंगोत्री : शिखर
  3. कर्नल : खुल्लर :: मेजर : कुमार
  4. चाय : गरम :: बर्फ : ठंड़ा
  5. पहले हिमालय पर्वतारोही पुरुष : तेनजिंग नोर्गे :: पहली एवरेष्ट पर्वतारोही महिला : जुंके ताबी

VI. स्त्रीलिंग शब्द लिखिए :

Mahila ki sahas gatha notes ling shabda
Mahila ki sahas gatha notes ling shabda
     पुल्लिंग      स्त्रीलिंग
  1. बाप      –    माँ
  2. पुरुष    –    स्त्री
  3. भाई     –    बहन
  4. बेटा      –   बेटी
  5. श्रीमान  –   श्रीमती

VII. उदाहरण के अनुसार लिखिए :

Mahila ki sahas gatha notes udaharan shabda
Mahila ki sahas gatha notes udaharan shabda
  1. पढ़ + आई = पढ़ाई
  2. चढ़ + आई = चढ़ाई
  3. कठिन + आई = कठिनाई
  4. ऊँचा + आई = ऊँचाई
  5. बढ़ + आई = बढ़ाई

VIII. अन्य वचन लिखिए :

Mahila ki sahas gatha notes vachan shabda
Mahila ki sahas gatha notes vachan shabda
  1. चट्टान – चट्टान
  2. रस्सी – रस्सियाँ
  3. शीशा – शीशा
  4. चोटी – चोटियाँ
  5. चादर – चादर

IX. विलोम शब्द लिखिए :

Mahila ki sahas gatha notes vilom shabda
Mahila ki sahas gatha notes vilom shabda
  1. आरोहण  x   अवरोहण
  2. चढ़ना     x    उतरना
  3. ठंडा       x    गरम
  4. परिश्रम   x    आलस्य
  5. सामने    x     पीछे

X. समनार्थक शब्द लिखिए :

उदा: पहाड़ = गिरि, पर्वत
  • चोटी = शिखर, सिरा
  • सुबह = सवेरा, प्रात:काल
  • महिला = औरत, स्त्री
  • नज़दीक = करीब, पास

XI. निम्न शब्दों में विशेषण तथा संज्ञा शब्दों को अलग-अलग कीजिए :

      शब्द  संज्ञा    विशेषण

उदा: ऊँचा  पर्वत   –  पर्वत ऊँचा
  1. मधुर स्वर – स्वर, मधुर
  2. कर्कश आवाज़  –  आवाज़, कर्कश
  3. बड़ा साधु  –  साधु, बड़ा
  4. ठंड़ी हवा  – हवा, ठंड़ी
  5. नायलॉन रस्सी – रस्सी, नायलॉन

XII. अनेक शब्द के लिए एक शब्द दिये गये हैं, ढूँढ़कर लिखिए :

Mahila ki sahas gatha notes ek shabda
Mahila ki sahas gatha notes ek shabda
( मासिक, सच्चारित्र, अक्षम्य, अमर, वनचर, पाश्चात्य, प्रत्यक्ष, स्थाई, दुर्गम, कृतज्ञ )
  1. जहाँ पहुँचा न जा सके – दुर्गम
  2. मास में एक बार आनेवाला – मासिक
  3. जो कभी न मरे – अमर
  4. अच्छे च्ररित्रवाला – सच्चारित्र
  5. जो आँखों के सामने हो – प्रत्यक्ष
  6. जो स्तिर रहे – स्थाई
  7. जिसे क्षमा न किया जा सके – अक्षम्य
  8. जो वन में घूमता हो – वनचर
  9. जिसका संबंध पश्चिम से हो – पाश्चात्य
  10. जो उपकार मानता हो – कृतज्ञ

XIII. कन्नड या अंग्रेज़ी में अनुवाद कीजिए :

1. बछेंद्री का जन्म एक साधारण परिवार में हुआ था।

उत्तर : ಬಚೇಂದ್ರಿಯ ಜನ್ಮ ಒಂದು ಸಾಧಾರಣ ಕುಟುಂಬದಲ್ಲಾಗಿತ್ತು.

2. बछेंद्री को रोज़ पैदल चलकर स्कूल जाना पड़ता था।

उत्तर : ಬಚೇಂದ್ರಿಗೆ ಪ್ರತಿದಿನ ಶಾಲೆಗೆ ನಡೆದುಕೊಂಡು ಹೋಗಬೇಕಾಗುತ್ತಿತ್ತು.

3. दक्षिणी शिखर के ऊपर हवा की गति बढ़ गई थी।

उत्तर : ದಕ್ಷಿಣ ಶಿಖರದ ಮೇಲೆ ಗಾಳಿಯ ವೇಗ ಹೆಚ್ಚಾಗಿತ್ತು.

4. मुझे लगा कि सफलता बहुत नज़दीक है।

उत्तर : ನನಗನಿಸಿತ್ತು ಯಶಸ್ಸು ಬಹಳ ಹತ್ತಿರವಾಗಿದೆ ಎಂದು.

5. मैं एवरस्ट की चोटी पर पहुँचनेवाली प्रथम भारतीय महिला थी।

उत्तर : ನಾನು ಎವರೆಸ್ಟ್ ಶಿಖರ ಏರಿದ ಮೊದಲ ಭಾರತೀಯ ಮಹಿಳೆಯಾಗಿದೆ.

Conclusion

जैसे कि आप ऊपर इस लेख को पढ़ चुके हैं। इस Mahila ki sahas gatha notes के अंतर्गत एक अंक के प्रश्न से संबंधित तथा दो – तीन अंक से संबंधित उत्तर, रिक्त स्थान पूर्ण कीजिए, अनुरूपता, जोड़कर लिखना, शब्दों का शुद्ध  रूप, तुकांत शब्द, उदाहरण के अनुसार लिखिए, समय से संबंधित दोहा एवं कविताएं साल के माह आदि  अंशों से संबंधित उत्तरों पर बहुत ही विस्तार रूप  से लिखा गया है।

प्रिय छात्रों आपसे निवेदन है कि आप इस Mahila ki sahas gatha notes को ठीक से पढ़ाई कर इसका अभ्यास करें‌। ताकि आनेवाले वार्षिक परीक्षा में आपको पूर्ण अंक मिल सकें। इस Mahila ki sahas gatha notes से संबंधित आपके कोई Doubts या विचार हो तो जरूर निम्न Comments box में लिखें।

FAQs बार-बार पूछे जाने वाले प्रश्न

  1. 1. बछेंद्री पाल को कौन-सा गौरव प्राप्त हुआ है?

    उत्तर : बछेंद्री पाल को एवरेस्ट की चोटी पर चढ़नेवाली पहली भारतीय महिला होने का गौरव प्राप्त हुआ है।

  2. 2. बछेंद्री के माता-पिता कौन थे?

    उत्तर : बछेंद्री के पिता किशनपाल सिंह और माता हंसादेई नेगी थे।

  3. 3. बछेंद्री ने क्या निश्चय किया?

    उत्तर : बछेंद्री ने पर्वतारोहण करने का निश्चय किया।

  4. 4. बछेंद्री ने किस ग्लेशियर पर चढ़ाई की?

    उत्तर : बछेंद्री ने ‘गंगोत्री ग्लेशियर’ पर चढ़ाई की।

  5. 5. सन् 1983 में दिल्ली में कौन-सा सम्मेलन हुआ था?

    उत्तर : सन् 1983 में दिल्ली में हिमालय पर्वतारोहियों का सम्मेलन हुआ था।

  6. 6. एवरेस्ट पर भारत का झंडा फहराते समय पाल के साथ कौन थे?

    उत्तर : एवरेस्ट पर भारत का झंडा फहराते समय पाल के साथ अंग दोरजी थे।

  7. 7. कर्नल का नाम क्या था?

    उत्तर : कर्नल का नाम खुल्लर था।

  8. 8. ल्हाटू कौन-सी रस्सी लाया था?

    उत्तर : ल्हाटू एक नायलॉन की रस्सी लाया था।

  9. 9. बछेंद्री ने थैली से कौन-सा चित्र निकाला?

    उत्तर : बछेंद्री ने थैली से दुर्गा माँ का चित्र निकाला।

  10. 10.कर्नल ने बधाई देते हुए बछेंद्री से क्या कहा?

    उत्तर : कर्नल ने बधाई देते हुए बछेंद्री से क्या कहा कि- “देश को तुम पर गर्व है।”

  11. 11.मेजर का नाम क्या था?

    उत्तर : मेजर का नाम कुमार था।

  12. 12.बछेंद्री को भारतीय पर्वतारोहण संघ ने कौन-सा पदक देकर सम्मान किया?

    उत्तर : बछेंद्री को भारतीय पर्वतारोहण संघ ने स्वर्ण पदक देकर सम्मान किया।

अच्छे अंक के लिए इन Notes को जरूर पढ़िए

अतिरिक्त जानकारी
Visited 694 times, 1 visit(s) today
Share This Post To Your Friends

Leave a comment

error: Content is protected !!